Whatsapp Hack Software Pegasus Spyware

जानिए क्या है पेगासस Pegasus Spyware

Whatsapp Hack Software Pegasus Spyware  एक बार फिर से सुर्खियों में है। whatsapp ने खुद अपने ब्लॉग पर ये स्वीकार किया था की पेगासस वायरस ने व्हाट्सएप्प वीडियो कॉल फीचर में एक बग (खामी) का फायदा उठाया है।

जानिए क्या है Pegasus Spyware

Whatsapp Hack Software Pegasus Spyware

पेगासस वायरस को इजरायल के NSO ग्रुप ने ईजाद किया है। ये एक तरह का spyware ( यानी एक प्रकार का सॉफ्टवेयर) है जिसे किसी भी यूजर के मोबाइल में इनस्टॉल करने पर ये यूजर के मोबाइल का कंट्रोल अपने हाथ मे ले लेता है।पेगासस, यूजर की इजाजत और जानकारी के बिना भी उसके स्मार्टफोन में इंस्टॉल हो सकता है। एक बार फोन में इंस्टॉल हो जाने के बाद इसे हटाया नामुमकिन है।

क्या क्या कर सकता है Pegasus Spyware

ये सॉफ्टवेयर एक बार यूजर के मोबाइल में इंस्टॉल होने के बाद यूजर के मोबाइल की लोकेशन कॉल डिटेल इमेज गैलेरी मैसेज बॉक्स आदि सब की जानकारी कमांड सर्वर को भेज देता है। यानी आपके मोबाइल में होने वाली सारी गतिविधियों हैकर को साझा कर देता है।

कब आया चर्चा में Pegasus Spyware

मई 2019 में दुनिया के हाई प्रोफाइल लोगो की कॉल की जासूसी में नाम आने पर पेगासस वायरस चर्चा में आया था। उस समय दुनिया के 1300 हाई प्रोफाइल नेता,पत्रकार बिज़नेस मैन जिनमे 300 भारतीय भी थे, उनके फ़ोन हैक होने का मामला काफी उछला था।इस मामले को कांग्रेस नेता ने राज्यसभा में जोर-शोर से उठाया था और सरकार पर कई आरोप भी लगाए थे।

कैसे काम करता है Pegasus Spyware

Whatsapp Hack Software Pegasus Spyware

पेगासस वायरस के मदद से कई तरीकों से फोन को हैक किया जा सकता है। हैकर्स एक मैसेज लिंक की मदद से इस ऐप को यूजर के फोन में इंस्टॉल करवाते है। वॉट्सऐप चैट की जासूसी करने के लिए हैकर्स ने इसके कॉलिंग फीचर की मदद ली। इस सॉफ्टवेयर को फोन में इंस्टॉल करने के लिए वॉट्सऐप के वीडियो और ऑडियो कॉलिंग फीचर का इस्तेमाल हुआ है।   खास बात यह है कि फोन रिसीव नहीं करने के बावजूद भी यह खतरनाक सॉफ्टवेयर यूजर के फोन में इंस्टॉल हो जाता है। या यू कहें कि पेगासस के जरिए यूजर की जासूसी करने के लिए उनके वॉट्सऐप नंबर पर वीडियो/ऑडियो कॉल किया गया। फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक वॉट्सऐप ऐप पर सिर्फ मिस्ड कॉल देकर इस सॉफ्टवेयर को लोगों के स्मार्टफोन में इंस्टॉल कराया गया।

क्या कहते है Pegasus Spyware के Devloper

पेगासस को बनाने वाली कंपनी का कहना है कि वो किसी निजी कंपनी को यह सॉफ्टवेयर नहीं बेचती है, बल्कि इसे केवल सरकार और सरकारी एजेंसियों को ही इस्तेमाल के लिए देती है।

कितने डेटा है  Pegasus Spyware के पास

पेरिस की एक संस्था के पास करीब 50 हजार फोन नंबर्स की एक लिस्ट है। इन संस्थानों का दावा है कि ये वो नंबर है, जिन्हें पेगासस स्पायवेयर के जरिए हैक किया गया है।

Pegasus Spyware से कैसे बचें

वॉट्सऐप ने इस अटैक के बारे में अपने सभी  यूजर्स को मैसेज भेजकर इसकी जानकारी दी है। इससे बचने का सिर्फ एक ही तरीका है और वो यह कि अपने वॉट्सऐप ऐप को अपडेट करें, क्योंकि नए अपडेट में पेगासस वायरस  फ़ोन में सेंध नहीं लगा सकता।

 

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes
Recommended
Business Motivational Quotes in Hindi   किसी की गलती को,…
Cresta Posts Box by CP