Biography in Hindi

स्वामी विवेकानंद के विचार इन हिंदी | Swami Vivekananda Quotes

Swami Vivekananda Jivani | Swami Vivekananda Quotes

यदि परिस्थितियों पर आपकी मजबूत पकड़ है तो जहर उगलने वाला भी आपका कुछ नही बिगाड़ सकता।

हर काम को तीन अवस्थाओं से गुज़रना होता है – उपहास, विरोध और स्वीकृति।

Swami Vivekananda Quotes

पवित्रता, धैर्य और दृढ़ता ये तीनों सफलता के लिए आवश्यक है लेकिन इन सबसे ऊपर प्यार है।

यह मत भूलो कि बुरे विचार और बुरे कार्य तुम्हें पतन की और ले जाते हैं

संभव की सीमा जानने का एक ही तरीका है, असंभव से भी आगे निकल जाना।

Quotes for Swami Vivekananda

हम वो हैं जो हमें हमारी सोच ने बनाया है, इसलिए इस बात का ध्यान रखिये कि आप क्या सोचते हैं।

वह नास्तिक है, जो अपने आप में विश्वास नहीं रखता।

उठो और जागो और तब तक रुको नहीं जब तक कि तुम अपना लक्ष्य प्राप्त नहीं कर लेते।

 Swami Vivekananda Quotes

एक समय में एक काम करो, और ऐसा करते समय अपनी पूरी आत्मा उसमे डाल दो

जब तक जीना, तब तक सीखना, अनुभव ही जगत में सर्वश्रेष्ठ शिक्षक है।

Swami Vivekananda Quotes on youth

ब्रह्मांड की सारी शक्तियां पहले से हमारी हैं। वो हमीं हैं जो अपनी आंखों पर हाथ रख लेते हैं और फिर रोते हैं कि कितना अंधकार है

सच्चाई के लिए कुछ भी छोड़ देना चाहिए, पर किसी के लिए भी सच्चाई नहीं छोड़ना चाहिए।

swami vivekananda quotes on success

अगर कोई पाप है, तो वो सिर्फ और सिर्फ अपने आपको या दूसरों को कमजोर मानना है।

एक नायक बनो और सदैव खुद से कहो मुझे कोई डर नहीं है जैसा मैं सोच सकता हूं वैसा जीवन में जी भी सकता हूँ।

swami vivekananda quotes on Education

जितना बड़ा संघर्ष होगा जीत उतनी ही शानदार होगी।

उठो मेरे शेरो इस भ्रम को मिटा दों कि तुम निर्बल हो।

धन्य हैं वो लोग जिनके शरीर दूसरों की सेवा करने में नष्ट हो जाते हैं.

आकांक्षा, अज्ञानता, और असमानता यह बंधन की त्रिमूर्तियां हैं।

 

Swami Vivekananda Birthday

विवेकानंद का जन्म 12 जनवरी सन्‌ 1863 को हुआ। उनका घर का नाम नरेंद्र दत्त था।

Swami Vivekananda Birth Palace

स्वामी विवेकानन्द का जन्म १२ जनवरी सन्‌ १८६3 को कलकत्ता में हुआ था।

Swami Vivekananda Death Date

4 जुलाई 1902 (उम्र 39) बेलूर मठ, बंगाल रियासत, ब्रिटिश राज (अब बेलूर, पश्चिम बंगाल में)

Swami Vivekananda Death Reason

स्वामी विवेकानंद अधिक तनाव पित्त में पथरी और दस्त से भी पीड़ित हुए। चार जुलाई 1902 को विवेकानंद का 39 साल की उम्र में निधन हो गया। उनके निधन की वजह तीसरी बार दिल का दौरा पड़ना था।

Swami Vivekananda Education Qualification

1884 मे बी. ए. परीक्षा उत्तीर्ण

Swami Vivekananda Family Members

स्वामी विवेकानंद के पिता विश्वनाथ दत्त एक नामी और सफल वकील थे माता भुवनेश्वरी देवी धार्मिक प्रवृत्ति की थी

Swami Vivekananda Jivani

स्वामी जी का जन्म एक बंगाली परिवार में हुआ था| स्वामी जी एक कायस्थ जाति में जन्मे थे। उनका पढ़ाई और आध्यात्मिकता की तरफ ध्यान लगता था। उनके बचपन का नाम नरेंद्रनाथ दत्त था.विवेकानंद के पिता विश्वनाथ दत्त कलकत्ता हाईकोर्ट के एक प्रसिद्ध वकील थे.मां माता भुवनेश्वरी देवी धार्मिक विचारों की महिला थीं

 

0.00 avg. rating (0% score) - 0 votes

Related Posts

Whatsapp dp Radha Krishna Serial Images | Radha Krishna WhatsApp and Facebook DP

Whatsapp dp Radha Krishna Serial Images | Whatsapp dp Radha Krishna आप Radha Krishna Whatsapp dp की तलाश कर रहे हैं? एक भगवान् राधा कृष्ण सीरियल इमेज वॉलपेपर पोर्ट्रेट के बेहतरीन संग्रह के साथ उन सकारात्मक को फैलाएं। यहां…

{Daily Updated} 100+ Cute Love Status | Love Status 2022 | Love Status Hindi in Hindi

{Daily Updated} 100+ Cute Love Status | Love Status 2022 | Love Status Hindi in Hindi Cute Love Status Hindi जहर को चख के परखने की जिद,मोहब्बत शायद इसी को कहते हैं, धड़कनों के भी कुछ उसूल होते हैं साहब, युही हर किसी के…

Mirza Ghalib Biography | मिर्ज़ा ग़ालिब की जीवनी

Mirza Ghalib Biography | मिर्ज़ा ग़ालिब की जीवनी मिर्ज़ा ग़ालिब एक प्रतिष्ठित उर्दू और फ़ारसी कवि थे। यह जीवनी उनके बचपन, परिवार, जीवन के इतिहास, संघर्षों, रचनाओं आदि को दर्शाती है। नाम : मिर्ज़ा असदुल्लाह बेग खान उर्फ “ग़ालिब”…

Load More Posts Loading...No More Posts.