Rooftop Solar Programme सरकार की इस स्कीम का उठाएं फायदा बिजली बिल की टेंशन से हो जाएंगे फ्री.. – दैनिक जागरण (Dainik Jagran)

Rooftop Solar Programme सरकार ने उपभोक्ताओं को लाभ देने के लिए सोलर एनर्जी स्कीम की तारीख को आगे बढ़ा दिया है। इस योजना के तहत उपभोक्ताओं को अपने घर के छत पर सोलर पैनल लगवाने पर सब्सिडी दी जाती है।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। Rooftop Solar Programme: अगर आप सोलर एनर्जी से अपने घर की बिजली जलाना चाहते हैं तो सरकार की इस जबरदस्त स्कीम से आप लाभ उठा सकते हैं। सरकार ने कुछ समय पहले ही ‘रूफटॉप सोलर प्रोग्राम’ (Rooftop Solar Programme) को चालू किया था, जिसके तहत उपभोक्ता अपने घर पर सोलर पैनल इंस्टालेशन करवा सकते हैं। इस योजना का लाभ 31 मार्च 2026 तक उठाया जा सकता है।

खास बात है कि इसके लिए उपभोक्ता अपनी पसंद के किसी भी विक्रेता द्वारा रूफटॉप सोलर को लगवा सकते हैं और सोलर इंस्टालेशन के लिए कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा।

रूफटॉप सोलर प्रोग्राम का लाभ लेने के लिए इच्छुक उपभोक्ता राष्ट्रीय पोर्टल पर आवेदन कर सकते हैं और प्रक्रिया को ट्रैक कर सकते हैं। इसके बाद सरकार द्वारा इसमें सब्सिडी दी जाएगी। रूफटॉप लगाने की सूचना या तो एक आवेदन से या रजिस्टर्ड वेबसाइट पर दी जा सकती है। इसके बाद वितरण कंपनी का यह काम होगा कि सूचना मिलने के 15 दिन के भीतर नेट मीटरिंग उपलब्ध करा दें।

नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (MNRE) ने अपने हाल के एक बयान में कहा कि कार्यक्रम के तहत सब्सिडी तब तक उपलब्ध रहेगी जब तक कि कार्यक्रम के तहत लक्ष्य हासिल नहीं हो जाता।

राष्ट्रीय पोर्टल के तहत सब्सिडी पूरे देश में 3 किलोवाट तक की क्षमता के लिए 14,588 रुपये प्रति किलोवाट तय की गई है। वहीं, 3 किलोवाट से 10 किलोवाट तक की क्षमता के लिए 20 प्रतिशत है।

सोलर पैनल और इनवर्टर की गुणवत्ता निर्धारित मानक के अनुसार हो इसके लिए केंद्र सरकार समय-समय पर सोलर पैनल निर्माताओं और इनवर्टर निर्माताओं की सूची भी छापा करेगी, जिनके उत्पाद सरकार द्वारा तय गुणवत्ता मानकों को पूरा करते होंगे।
ये भी पढ़ें-
LIC ने बंद कर दीं अपनी दो स्कीम, अगर आपके पास हैं ये पॉलिसी तो चिंता की बात नहीं, सुरक्षित है पैसा

IRDAI का प्रस्ताव, कारों के लिए 3 साल और दोपहिया वाहनों को 5 साल तक मिल सकता है बीमा कवर

 

श्रीलंका
भारत
भारत ने श्रीलंका को 317 रनों से हराया
Copyright © 2022 Jagran Prakashan Limited.

source