Poultry Farming: छोटे खर्च में कमायें बड़ा मुनाफा, पोल्ट्री फार्मिंग के लिये 25 लाख तक अनुदान – ABP न्यूज़

By: ABP Live | Updated at : 11 Oct 2022 04:18 PM (IST)

मुर्गी पालन (फाइल तस्वीर)
National Livestock Mission: ग्रामीण इलाकों में मुर्गी पालन (Poultry farming) के जरिये किसानों और युवाओं को आत्मनिर्भर बनाने की कवायद की जा रही है. अब मुर्गी पालन करना कोई बहुत मुश्किल काम नहीं रहा. कई किसान तो खेती के साथ-साथ घर के बैकयार्ड में मुर्गीपालन (Backyard Poultry Farming) कर रहे हैं. इससे अंडा और मांस का अच्छा-खासा प्रॉडक्शन मिल जाता है और ऑफ सीजन में भी किसान अच्छा पैसा कमा सकते हैं. यदि बड़े स्तर पर पोल्ट्री फार्मिंग शुरू करना चाहते हैं तो राष्ट्रीय पशुधन मिशन (National Livestock Mission) के तहत सरकार की तरफ से 50 प्रतिशत तक अनुदान (Subsidy on Poultry Farming) भी दिया जाता है. इसके अलावा, नाबार्ड की तरफ से पोल्ट्री फार्मिंग के लिये कम दरों पर लोन भी दिया जाता है.
मुर्गी पालन के लिये सब्सिडी
देशभर में प्रोटीन की खपत बढ़ती जा रही है. इसके लिये अब एक बड़ी आबादी मुर्गियां और अंड़ों पर निर्भर रहती है. यही कारण है कि गांव-गांव में अब डेयरी फार्म की तरह पोल्ट्री फार्म भी खोले जा रहे हैं. खासकर शहर के नजदीकी ग्रामीण इलाकों में घर के बैकयार्ड से लेकर बड़े स्तर पर पोल्ट्री फार्मिंग की जा रही है. मुर्गियों की कई उन्नत नस्लें अब नौकरी से पैसा दिलवा रही है.
यही कारण है कि इस काम से अब युवा भी जुड़ रहे हैं. पोल्ट्री फार्मिंग में लागत को कम करने के लिये राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना यानी नेशनल लाइवस्टॉक मिशन के तहत करीब 50 प्रतिशत तक सब्सिडी या अधिकतम 25 लाख के अनुदान का प्रावधान है. इस योजना का लाभ लेकर पोल्ट्री यूनिट लगाने के लिये ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. इसके लिये https://nlm.udyamimitra.in/ पर जाकर अधिक जानकारी भी ले सकते हैं. 
🐓 | #NLM is fostering #entrepreneurship in India’s #poultry sector.

news reels

👉🏻To avail benefits, visit: https://t.co/0AGPVApfQt #PoultryFarming #PoultryFarm#NationalLivestockMission pic.twitter.com/SXttYJJpEN

ये नस्लें बढायेंगी मुनाफा
पोल्ट्री फार्मिंग से अच्छी कमाई के लिये उन नस्लों का चयन करें, जिनके मांस और अंडों की डिमांड देश-विदेश में ज्यादा रहती है. इस बीच ये बात भी ध्यान रखें कि अच्छी रोग प्रतिरोधी क्षमता वाली नस्लों को चुनें, जिससे बीमारियों का खतरा कम रहे. साथ ही चूजों के प्रबंधन का काम भी आसानी से किया जा सके. विशेषज्ञों के मुताबिक, सील, कड़कनाथ, ग्रामप्रिया, स्वरनाथ, केरी श्यामा, निर्भीक, श्रीनिधि, वनराजा, कारी उज्जवल और कारी आदि मुर्गियां और इनके अंडे आसानी से बाजार में बिक जाते हैं.
यहां करें आवेदन
राष्ट्रीय पशुधन मिशन योजना यानी नेशनल लाइव स्टॉक मिशन (National Livestock Mission Scheme) के तहत नये पोल्ट्री फार्म पर सब्सिडी का लाभ लेने के लिये ऑफिशियल पोर्टल https://nlm.udyamimitra.in/ पर जाकर आवेदन कर सकते हैं.
किसान चाहें तो नजदीकी जिले में पशुपालन विभाग के कार्यालय में जाकर भी पोल्ट्री फार्मिंग(Poultry Farming), मुर्गियों की उन्नत नस्लें, पोल्ट्री फार्मिंग का कुल खर्चा और पोल्ट्री फार्म लगाने की जानकारी हासिल कर सकते हैं.
Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ कुछ मीडिया रिपोर्ट्स और जानकारियों पर आधारित है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.
Open Pollinated Seeds: अच्छी पैदावार के लिए देसी बीज चुनें या हाइब्रिड, फर्क समझ लेंगे तो आसान हो जाएगी खेती
Stubble Management: बडे़ काम की होती है बारिश में भीगी हुई पराली, ये उपाय करने पर डबल दाम पर बिकेगी
Agri Tech: आलू की खेती में समय, पानी और पैसा बचाने वाली तकनीक.. कम खर्च में मिलेगा डबल प्रोडक्शन
GI Tag: दुनियाभर में मशहूर है भारत का चावल, इन अनोखी किस्मों की है भारी मांग… जानिए इनमें ऐसा क्या है?
किसानों के लिए ‘बिजली बनाओ-पैसा कमाओ’ स्कीम, जो खर्चा होगा, उस पर 90% सब्सिडी भी मिलेगी
Ethanol Prodction: देश में इतने हजार करोड़ हुई एथेनॉल उत्पादन की क्षमता… इन किसानों की बढ़ जाएगी कमाई
Agri Scheme: ये मौका ना गवाएं… देश-विदेश में बढ़ रही इस लकड़ी की डिमांड, खेती के लिए पूरा पैसा देगी सरकार!
जनवरी की इस तारीख से ठंड हो जाएगी कम, नए अपडेट में पढ़ें पूरे हफ्ते कैसा रहेगा मौसम
मैनपुरी में जीत के बाद अखिलेश-शिवपाल और समाजवादी पार्टी के अंदरखाने में क्या चल रहा है?
VIDEO: Shubman को देख ‘सारा-सारा’ चिल्लाने लगे फैंस, देखें गिल ने क्या दिया रिएक्शन
शिवसेना के असली दावेदार को लेकर आज खत्म होगा सस्पेंस! चुनाव आयोग ले सकता है फैसला
BJP कार्यकारिणी बैठक का आज दूसरा दिन, G20 अध्यक्षता से लेकर 2024 चुनाव पर पीएम करेंगे बात

source