Kanya Sumangla Yojana: आपके घर में भी हैं बेटियां तो खाते में आएंगे पूरे 15000 रुपये, जानें कैसे? – ABP न्यूज़

By: ABP Live | Updated at : 12 Sep 2022 01:28 PM (IST)

फाइल फोटो
Government Scheme 2022: आज हम आपको ऐसी योजना के बारे में बता रहे हैं जो खासतौर से बेटियों को ध्यान में रखकर तैयार किया है. बेटियों के प्रति नाकारत्मक सोच के कारण वे हमेशा से स्वास्थ्य शिक्षा जैसी मौलिका अधिकारों से वंचित रह जाती हैं. इसे खत्म करने के लिए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ऐसी योजना लेकर आई है जिसके तहत बेटियों को राज्य सरकार की तरफ से 15,000 रुपये आर्थिक सहायता के तौर पर दिया जाता है. 
जानिए क्या है स्कीम?
प्रदेश की योगी सरकार उत्तर प्रदेश की लड़कियों के लिए   कन्या सुमंगला योजना (Kanya Sumangla Yojana) लेकर आई है. इस योजना को तहत बेटियों को पूरे 15,000 रुपये राज्य सरकार के तरफ से दिए जाते हैं. योजना के लाभ केवल प्रदेश की बेटियां ही ले सकती हैं. 
कितने रुपये का मिलता है फायदा?
योगी सरकार की कन्या सुमंगला योजना (Kanya Sumangla Yojana)के तहत बेटियों को पूरे 15000 रुपये का फायदा मिलता है. इसमें कुल 15000 रुपये ट्रांसफर की राशि को 6 समान किस्तों में दिया जाता है. 
किस तरह मिलेंगे 15000 रुपये
आपको बताते हैं किस प्रकार प्रदेश सरकार बेटियों को 15,000 रुपये देती हैं. छह श्रेणियों में विभाजित कर पैसे इस प्रकार दिए जाते हैं. 

paisa reels


1. बालिका के जन्म होने पर – पहली किस्त के 2000 रुपये – 
2. एक वर्ष तक के पूर्ण टीकाकरण पर – दूसरी किस्त के 1000 रुपये 
3. कक्षा एक में प्रवेश लेने पर – तीसरी किस्त के 2000 रुपये
4. कक्षा 6 में प्रवेश लेने के बाद – चौथी किस्त के 2000 रुपये 
5. कक्षा 9 में एडमिशन के बाद – पांचवी किस्त के 3000 रुपये 
6. 10वीं या 12वीं कक्षा में उत्तीर्ण करके स्नातक या फिर 2 साल से अधिक अवधि के डिप्लोमा कोर्स पर – छठी किस्त के 5000 रुपये दिए जाते हैं. 
चेक करें ऑफिशियल वेबसाइट
इस स्कीम के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप ऑफिशियल वेबसाइट https://mksy.up.gov.in/women_welfare/index.php पर विजिट कर लें. 

जानिए किन लोगों को मिलेगा फायदा
योजना का लाभ उसी बेटी को मिलेगा जिसका जन्म एक अप्रैल 2019 को या उसके बाद हुआ होगा.
योजना का लाभ उसी बेटी को मिलेगा जिसका परिवार उत्तर प्रदेश का निवासी होगा. 
साथ ही परिवार के पास स्थायी निवास प्रमाण पत्र हो, जिसमें राशन कार्ड/ आधार कार्ड/ वोटर पहचान पत्र/ इलेक्ट्रिसिटी/ टेलीफोन होना चाहिए और वही मान्य होगा. 
लाभार्थी की सलाना आय अधिकतम 3 लाख रुपये हो.
किसी परिवार की अधिकतम दो ही बच्चियों को योजना का लाभ मिल सकेगा.
परिवार में अधिकतम दो बच्चे हों.
अगर किसी के घर में पहली संतान लड़की हो और बाद में जुड़वा संतान में दोनों लड़की हों तो ऐसी स्थिति में तीनों बालिकाओं को इस सुविधा का लाभ मिलेगा. 

प्रदेश सरकार ने अपने वेबसाइट में बताया है कि बालिकाओं और महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा के साथ विकास के नए असर प्रदान करने के लिए इस योजना की शुरुआत की गई है. इससे जहां कन्या भ्रूण हत्या और बाल विवाह जैसी कुरितियों पर रोक लगाने में मदद मिलेगी, महिलाएं का सशक्तिकरण होगा, वहीं बेटियों को उच्च शिक्षा और रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे.   
ये भी पढ़ें
Festive Sale: दुर्गा पूजा, दीपावली पर बढ़ेगी TV, फ्रिज, वॉशिंग मशीन की सेल, इंडस्ट्री को 75,000 करोड़ रुपये कमाने की उम्मीद
PM Modi Gift Auction: आप भी खरीद सकते हैं पीएम मोदी को मिले शानदार गिफ्ट, 100 रुपये से 10 लाख तक है बेस प्राइस
WEF Survey: दुनिया में इस साल वैश्विक मंदी की आशंका, भारत को मिलेगा फायदा, सर्वे में हुआ खुलासा
India Trade Data: एक्सपोर्ट में आई गिरावट, दिसंबर में व्यापार घाटा बढ़कर 23.76 अरब डॉलर पर पहुंचा
Air India: एविएशन सेक्टर में दबदबा बढ़ाने के लिए 500 नए विमानों का आर्डर दे सकती है एयर इंडिया!
Housing Prices: 2023 में घरों की कीमतों में हो सकता है इजाफा, बिल्डर्स के सर्वे में हुआ खुलासा
IPO News: बाजार के बिगड़े सेंटीमेंट का असर, फरवरी 2023 में इन कंपनियों के लिए IPO लॉन्च करने की समय सीमा हो जाएगी खत्म!
‘…आप बोलते हुए अच्छे नहीं लगते’, राहुल गांधी के वार पर पंजाब के सीएम भगवंत मान का पलटवार, पढ़ें पूरा मामला
मैनपुरी में जीत के बाद अखिलेश-शिवपाल और समाजवादी पार्टी के अंदरखाने में क्या चल रहा है?
लीजिए खत्म हुआ सिद्धार्थ मल्होत्रा की Mission Majnu का इंतजार! नेटफ्लिक्स पर इस दिन करेगी धमाका
Oxfam Report: अमीर-गरीब के बीच खाई बढ़ी, 1 प्रतिशत धन्‍नासेठों के पास है देश की 40 फीसदी दौलत
कर्ज़ में डूबे पाकिस्तान को आखिर क्यों याद आ गया पीएम मोदी का भाषण?

source