Himachal Pradesh में ओल्ड पेंशन स्कीम हुई बहाल, महिलाओं को हर महीने मिलेंगे 1500 रुपये – Zee News Hindi

OPS Restored: ओल्ड पेंशन स्कीम (Old Pension Scheme) को बहाल करने का फैसला हिमाचल प्रदेश सरकार ने किया है. इसके अलावा कैबिनेट की पहली बैठक में महिलाओं को हर महीने 1,500 रुपये देने का निर्णय भी लिया गया.
Trending Photos
Old Pension Scheme: हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) की सुखविंदर सिंह सुक्खू (Sukhwinder Singh Sukhu) सरकार ने राज्य में ओल्ड पेंशन स्कीम (Old Pension Scheme) बहाल कर दी है. सुखविंदर सिंह सुक्खू सरकार की पहली कैबिनेट बैठक में ओल्ड पेंशन स्कीम (OPS) बहाल करने का फैसला लिया गया है. सुक्खू मंत्रिमंडल के इस फैसले का लाभ 1 लाख 36 हजार कर्मचारियों को मिलेगा. इसके अलावा महिलाओं को हर महीने 1,500 रुपये पेंशन देने का फैसला भी लिया गया है.
सुक्खू सरकार ने बहाल की OPS
बता दें कि हिमाचल प्रदेश की सुक्खू सरकार ने कर्मचारियों से किया वादा पूरा कर दिया है. सरकार की पहली कैबिनेट में ये फैसला लिया गया कि ओल्ड पेंशन स्कीम को बहाल किया जाए. ओल्ड पेंशन स्कीम की बहाली का नोटिफिकेशन आज जारी होगा. वहीं, कैबिनेट की बैठक में दूसरा फैसला ये लिया गया कि हिमाचल प्रदेश की महिलाओं 1500 रुपये मासिक पेंशन दी जाएगी.
कैबिनेट की पहली बैठक में बड़ा फैसला
गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने कैबिनेट की पहली बैठक में ओल्ड पेंशन स्कीम को बहाल करने का वादा किया था, जिसे उसने पूरा कर दिया है. कैबिनेट ने कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र को सरकार के नीति दस्तावेज के तौर पर अपनाने का भी फैसला लिया.

महिलाओं को हर महीने मिलेंगे 1500 रुपये
हिमाचल प्रदेश के सीएम सुखविंद सिंह सुक्खू ने कहा कि ओल्ड पेंशन स्कीम का फायदा 13 जनवरी से मिलने लगेगा. इसको लेकर जल्द ही नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा. मुख्यमंत्री सुक्खू ने 18 से 60 साल की उम्र की महिलाओं को हर महीने 1,500 रुपये देने के वादे पर भी फैसला लिया.
सीएम सुक्खू ने बताया कि कृषि मंत्री चंद्र कुमार की लीडरशिप में कैबिनेट की एक उप समिति को गठित किया गया है. इसमें धनी राम शांडिल, जगत नेगी और अनिरुद्ध सिंह को मेंबर्स के तौर पर शामिल किया गया है. उन्होंने कहा कि ये उप समिति महिलाओं को प्रति माह 1,500 रुपये देने के लिए अगले 30 दिनों में एक फ्रेमवर्क तैयार करेगी.
पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi – अब किसी और की ज़रूरत नहीं
लाइव टीवी
More Stories
Quick Links
TRENDING TOPICS
Partner sites
© 1998-2022 INDIADOTCOM DIGITAL PRIVATE LIMITED, All rights reserved.

source