Tuesday, November 29, 2022

Gussa Shayari, Gussa Shayari in Hindi, Gussa Wali Shayari

-

Gussa shayari | Itna Gussa Shayari | Gussa Shayari in Hindi | Gussa Wali Shayari | Gussa Shayari Hindi

गुस्सा सबसे ज्यादा उसी पर, जिससे हम सबसे ज्यादा प्यार करते है।

 

एक दुसरे से गुस्सा होने पर भी,
एक दुसरे का ख्याल रखना यही तो प्यार है

 

गुस्सा ऐसी चीज है, जो इंसान की शख्सियत बदल देती है।

 

जब भी तुम्हे गुस्सा आए
तो हम पर बरस जाया करो
तेरी खामोशी हमे मार देती है

अक्सर कामयाबी की बात वही करता है,
जो इंसान क्रोध का लगाम अपने हाथ में रखता है.

 

जब आप अपने गुस्से पर काबू पा लेते हो, तो आप अपने आप पर काबू पा लेते हो।

 

जिन्हें गुस्सा आता हैं वो लोग सच्चे होते है,
मैंने झूठो को अक्सर मुस्कराते हुए देखा है।

 

गुस्से में ही एक सही इंसान की पहचान होती है

 

कैसे कह दें कि उनके कुछ नहीं लगते हम,
उनके गुस्से पर आज भी हमारा ही हक है।

 

जब भी कभी गुस्सा आए
अपनो से थोड़ा दूर हो जाया करो
अक्सर लोग गुस्से में कुछ भी बोल देते है

गुस्सा करने वाला इंसान अंदर से कमज़ोर होता है।

 

दो पल के गुस्से से प्यार भरा रिश्ता बिखर जाता है,
होश जब आता है तो वक्त निकल जाता है.

 

गुस्से में इंसान अपने आप का भी नहीं होता।

 

किस बात पर गुस्सा है, ये पूछने वाला हो तो,
मुस्कान क़भी नहीं जाती।

 

ना तेरी शान कम होती ना रूतबा ही घटा होता,
जो गुस्से में कहा तुमने वही हंस के कहा होता

 

गुस्सा तो बहुत है मुझे यूँ छोड़ के जाने का,
उम्मीद भी उतनी है फ़िर से लौट कर आने की।

 

मैं बदला नहीं, आजकल बस अंदाज सही है
ख़ामोश रहता हूँ पर गुस्से का मिजाज वही है

 

गुस्सा इंसान की कमजोरी दर्शाता है
जो इसे रोक लेता है समझदार कहलाता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

FOLLOW US

0FansLike
3,584FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
spot_img

Related Stories