Government Scheme: मोदी सरकार की शानदार स्कीम, बेटियों को देगी लाखों रुपये का फायदा – Zee News Hindi

Sukanya Samriddhi Yojana: यह योजना बेटियों के लिए बचत करने को प्रोत्साहन देती है और इस योजना से बेटियों को लाखों रुपये का फायदा भी मिल सकता है. इस स्कीम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जरिए साल 2015 में शुरू किया गया था. इस योजना का उद्देश्य लड़कियों की सुरक्षा, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में लड़कियों की उच्च भागीदारी को बढ़ाना देना है.
Trending Photos
Government Scheme: सरकार की ओर से लोगों के लिए कई सारी योजनाएं चलाई जा रही हैं. वहीं मोदी सरकार की ओर से महिलाओं और बेटियों को भी काफी बढ़ावा दिया जा रहा है. इसी क्रम में सरकार की ओर से बेटियों के बेहतर भविष्य के लिए भी कई योजनाएं चलाई जा रही हैं. इनमें से एक योजना ऐसी है जो बेटियों के लिए बचत करने को प्रोत्साहन देती है और इस योजना से बेटियों को लाखों रुपये का फायदा भी मिल सकता है. दरअसल, सरकार की ओर से सुकन्या समृद्धि योजना चलाई जा रही है. इस स्कीम को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जरिए साल 2015 में शुरू किया गया था. इस योजना का उद्देश्य लड़कियों की सुरक्षा, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में लड़कियों की उच्च भागीदारी को बढ़ाना देना है.

सुकन्या समृद्धि योजना
बेटी बचाओ बेटी पढाओ अभियान के तहत सुकन्या समृद्धि योजना एक बालिका के भविष्य को सुरक्षित करने के मुख्य उद्देश्य के साथ शुरू की गई थी. SSY योजना के कई लाभ हैं. इस योजना के तहत किए गए निवेश का इस्तेमाल बालिका के विवाह और शिक्षा के लिए किया जा सकता है. SSY खाता बैंकों और डाकघरों में खोला जा सकता है. इस खाते में जितनी अमाउंट जमा की जाती है उस पर ब्याज भी हासिल होता है और लाखों रुपये का फंड भी इसमें इकट्ठा किया जा सकता है.
टैक्स छूट
वहीं आयकर अधिनियम 1961 की धारा 80C के तहत योजना के तहत किया गए निवेश पर 1.5 लाख रुपये तक के टैक्स बेनेफिट्स भी मिल सकते हैं. वहीं इस योजना के तहत किए गए निवेश पर ब्याज भी हासिल होता है. इसे सालाना आधार पर कंपाउंड किया जाता है. हालांकि योजना की अवधि पूरी होने या लड़की के अनिवासी भारतीय (NRI) या गैर-नागरिक बनने पर ब्याज देय नहीं है. ब्याज की दर सरकार के जरिए तय की जाती है और तिमाही आधार पर निर्धारित की जाती है. फिलहाल इस योजना में 7.6% (Q3 FY 2022-23) ब्याज दिया जा रहा है.
निवेश की राशि
बता दें कि इस योजना के तहत एक वित्तीय वर्ष में 250 रुपये की न्यूनतम राशि जमा करनी होगी. वहीं अगर मिनिमम राशि जमा नहीं की जाती है तो खाते को डिफॉल्ट माना जाएगा. हालांकि, 50 रुपये का जुर्माना देकर खाते को वापस एक्टिव स्थिति में लाया जा सकता है. वहीं इस खाते में एक साल में अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा किए जा सकते हैं.

लड़की के नाम पर अकाउंट
10 वर्ष से कम आयु की बालिका के माता-पिता या कानूनी अभिभावक बालिका के नाम पर SSY खोलने के पात्र हैं. इस योजना के तहत 21 साल या 18 साल की उम्र के बाद लड़की की शादी होने तक अकाउंट की मैच्योरिटी होती है. वहीं एक लड़की के नाम पर केवल एक ही अकाउंट खोला जा सकता है.
पाठकों की पहली पसंद Zeenews.com/Hindi – अब किसी और की ज़रूरत नहीं
लाइव टीवी
More Stories
Quick Links
TRENDING TOPICS
Partner sites
© 1998-2022 INDIADOTCOM DIGITAL PRIVATE LIMITED, All rights reserved.

source