Government Scheme: क्या सरकार दे रही है बेटियों को 1.5 लाख रुपये? जान लें क्या है ये स्कीम – Zee News Hindi

Government Schemes For Women: सरकारी गुरु नामक एक यूट्यूब चैनल ने एक वीडियो पोस्ट किया है. इस वीडियो में इस बात का दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार की ओर से एक योजना चलाई जा रही है और इस योजना में बेटियों को 1.5 लाख रुपये की राशि दी जा रही है.
Trending Photos
Scheme For Daughter: सोशल मीडिया पर कही गई हर बात सच हो, ऐसा सही नहीं है. सोशल मीडिया पर आजकल कई भ्रामक बातें भी फैलाई जा रही है. इन बातों के जरिए लोगों के मन में भ्रम पैदा करने की कोशिश की जा रही है या फिर लोगों को ठगने की कोशिश की जा रही है. अब ऐसा ही एक भ्रामक वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है, इसमें सरकार से जोड़कर इस योजना के बारे में बताया गया है. इसकी एक तस्वीर PIB Fact Check ने शेयर की है.
ये है दावा
दरअसल, सरकारी गुरु नामक एक यूट्यूब चैनल ने एक वीडियो पोस्ट किया है. इस वीडियो में इस बात का दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार की ओर से एक योजना चलाई जा रही है और इस योजना में बेटियों को 1.5 लाख रुपये की राशि दी जा रही है. वहीं इस योजना का नाम प्रधानमंत्री कन्या आशीर्वाद योजना बताया जा रहा है.
फर्जी है दावा
हालांकि PIB Fact Check की ओर से इस वीडियो का फैक्ट चेक किया गया है और इस वीडियो को फर्जी पाया गया है. PIB Fact Check की ओर से ट्वीट कर बताया गया, ‘सरकारी गुरु’ नामक एक #YouTube चैनल के एक वीडियो में दावा किया गया है कि ‘प्रधानमंत्री कन्या आशीर्वाद योजना’ के तहत सभी बेटियों को 1,50,000 रुपये की राशि मिलेगी. हालांकि यह दावा फर्जी है. केंद्र सरकार की ओर से ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है.’


सरकारी गुरु’ नामक एक #YouTube चैनल की एक वीडियो में दावा किया गया है कि ‘प्रधानमंत्री कन्या आशीर्वाद योजना’ के तहत सभी बेटियों को ₹1,50,000 की राशि मिलेगी।#PIBFactCheck
▶️ यह दावा फ़र्ज़ी है।
▶️ केंद्र सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है। pic.twitter.com/jtPMpXY0Fe
— PIB Fact Check (@PIBFactCheck) November 21, 2022
नहीं है ऐसी कोई योजना

PIB Fact Check की ओर से इस दावे को फर्जी बताया गया है. साथ ही कहा गया है कि केंद्र सरकार के जरिए ‘प्रधानमंत्री कन्या आशीर्वाद योजना’ से किसी भी प्रकार की कोई योजना नहीं चलाई जा रही है. ऐसे में ये दावा भ्रामक है.
ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइट Zeenews.com/Hindi पर
लाइव टीवी
More Stories
Quick Links
TRENDING TOPICS
Partner sites
© 1998-2022 INDIADOTCOM DIGITAL PRIVATE LIMITED, All rights reserved.

source