Government scheme: किसानों के लिए बहुत काम की है ये योजनाएं, आज ही … – Newz Fast

Hit enter to search or ESC to close.
इन योजनाओं से जुड़कर लोन की अच्छी राशि प्राप्त कर सकते हैं तो आइए जानते हैं सरकार के कुछ ऐसी योजनाओं के बारे में जिस से जुड़कर किसान कृषि लोन प्राप्त कर सकते हैं।

Newz Fast, New Delhi  किसानों की सहायता के लिए कई महत्वाकांक्षी योजनाएं चला रही हैं लेकिन आज हम आपको ऐसी 5 योजनाओं के बारे में बताने वाले हैं जिसकी सहायता से किसान फसलों में आने वाली परेशानियों से आसानी से निपट सकते हैं।
इन योजनाओं से जुड़कर लोन की अच्छी राशि प्राप्त कर सकते हैं तो आइए जानते हैं सरकार के कुछ ऐसी योजनाओं के बारे में जिस से जुड़कर किसान कृषि लोन प्राप्त कर सकते हैं।।
कृषि लोन हेतु प्रमुख योजनाएं
एसबीआई कृषक उत्थान योजना
सरकार की इस योजना से किसान ज्यादा 1लाख तक का क्रेडिट प्राप्त कर सकते हैं। इसमें ₹20000 खर्च होंगे इस लोन की सबसे खास यह है कि इसके लिए किसानों को किसी भी तरह के सिक्योरिटी देने की जरूरत नहीं है।

कृषक स्वर्ण ऋण
सरकार की इस योजना के तहत किसानों को 50 लाख रुपए तक का लोन मिलता है। योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को अपने नजदीकी एसबीआई शाखा में जाकर संपर्क करना होगा जहां किसानों को इससे संबंधित सभी जानकारी सरलता से मिल जाएगी।

किसान क्रेडिट कार्ड
इस योजना के तहत सरकार किसानों को ₹1लाख 60हजार रूपये तक का लोन देती है। इसके तहत किसान अपनी फसल का बीमा भी करवा सकते हैं इस योजना में किसान ही नहीं पशुपालक और मछुआरों को भी शामिल किया गया है ताकि वह किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ उठा सकें।

कृषि क्लीनिक एवं कृषि व्यवसाय केंद्रों की स्थापना
इस योजना के तहत किसानों को नाबार्ड बैंक 2000000 रुपए तक का व्यक्तिगत लोन और प्रशिक्षण उद्यमियों के लिए 10000000 रुपए तक का समूह लोन उपलब्ध करवाती हैं इसके अलावा इसमें उद्यमियों को परियोजना लागत का लगभग 36 से 44% तक का लोन दिया जाता है।
भूमि खरीदी योजना
इस योजना में गरीब और छोटे किसानों को जमीन खरीदने के लिए प्रोत्साहित करना है किसान लाभ अपने निकटतम एसबीआई बैंक में जाकर ले सकते हैं इस योजना में बैंक द्वारा खरीदी जाने वाली भूमि का कुल मूल्य का आकलन करके उसकी कीमत का 85 प्रतिशत तक लोन दिया जाता है

Our website works to bring the nearby news to the people. We provide correct information to the people. For More Information contact on [email protected]
Email :Email : [email protected]

source